Breaking News
Home / दुनिया / पाकिस्तान में एक रोटी की कीमत हुई १० से १५ रुपए ,इमरान खान ने बुलाई हाई लेवल मीटिंग

पाकिस्तान में एक रोटी की कीमत हुई १० से १५ रुपए ,इमरान खान ने बुलाई हाई लेवल मीटिंग

हमें जब भूख लगती है तो हम क्या करते हैं सीधे खाना खाते हैं जिसमे रोटियां होती हैं लेकिन अगर वही रोटी की कीमत एकदम से बढ़ जाए तो आप क्या करेंगे | ऐसा ही कुछ हाल हो रखा है हमारे पडोसी मुल्क पाकिस्तान का जहाँ की आवाम अब रोटियों के लिए तरस रही है | किसी भी देश की तरक्की के लिए वहा की अर्थब्यवस्था का सही होना सबसे बड़ा कारण होता है जो कि पाकिस्तान में नहीं है है मतलब यहाँ की आर्थिक कमर इस कदर टूट गयी है कि एक रोटी की कीमती १० से १५ रुपए की मिल रही है | यह महंगाई अपने आप में एक चिंता का विषय है लेकिन इससे पाकिस्तान के उपर क्या फर्क पड़ना है वह तो किसी और चीज को सपोर्ट करता है जिससे उसकी यह हालत हुई है | गधे बेचने वाले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान जो की पूर्व क्रिकेटर भी रह चुके है एक हाई लेवल मीटिंग भुलाई है | जब इमरान खान प्रधानमंत्री बने थे तब उनोंहे शपथ ग्रहण करने के समय एक नया पाकिस्तान बनाने का सपना सोचा था | यह सपना तो इमरान खान का बिखर गया |

नया पाकिस्तान तो क्या वो पुराने पाकिस्तान को खाने के लिए रोटी की जरुरत को भी नहीं पूरा कर पा रहे हैं | पाकिस्तान की जनता महंगाई में इतनी जादा उलझ गयी है कि उसके सामने कोई रास्ता नहीं नजर आ रहा है कि वह कैसे इस महंगाई का सामना करे |  पडोसी मुल्क आर्थिक तंगी से गुजर रहा है पूरा विश्व जानता है इसके लिए इमरान खान की सरकार ने रशोई गैस की कीमते बढ़ा दी इससे इमरान ने सोचा था की कुछ हद तक मदद मिल जाएगी और सरकारी खजाने पर कुछ बोझ कम हो जायेगा लेकिन जिसकी किस्मत ही खराब हो उसका कुछ नहीं किया जा सकता है |

जब रशोई गैस की कीमत में वृद्धि की गयी तो होटल के मालिको ने रोटियों की कीमत बढ़ा दी जिससे एक रोटी की कीमत १० से १५ रुपए हो गयी | बढ़ी हुई कीमत से वहां की जनता अब रोटी खाने के लिए परेशान होने लगी | यही रोटी पहले ८ रुपए तक मिल जाती थी | इओस परेशानी से निजात पाने के लिए इमरान खान ने हाई लेवल मीटिंग बुलाई जिससे कुछ उपाय निकल सके | इस हालात को देखते हुए सोशल नेटवर्क पर इमरान खान का मजाक उड़ने लगा | कई लोगो ने कहा कि वह रोटी अपने सऊदी अरब देश से क्यों नहीं लेते हैं ,तो वाही कुछ लोगो ने पाकिस्तान को नान पाकिस्तान बनाने की मांग करने लगे |

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *